बिहार कैबिनेट के फैसले: पटना में अब CNG से चलेंगी गाड़ियां

बिहार कैबिनेट के फैसले: पटना में अब CNG से चलेंगी गाड़ियां

पटना । बिहार कैबिनेट की बैठक मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में कुल 12 एजेंडे पर मुहर लगाई गई। बैठक में लिए निर्णय के अनुसार पटना में अब सीएनजी से गाड़ियां चलेंगी। इसके लिए फुलवारी में सीएनजी प्लांट लगाया जाएगा। इसके लिए जमीन आवंटित कर दी गई है। गेल कंपनी पटना में सीएनजी स्टेशन बनाएगी । साथ ही परिवहन विभाग में नया संवर्ग बनाने को भी कैबिनेट ने मंजूरी दी।
परिवहन विभाग को हाेगा अपना चलंत दस्‍ता
परिवहन विभाग का अब अपना चलंत सिपाही दस्ता होगा। सिपाहियों का यह दस्ता अवैध गतिविधियों पर नकेल कसने के साथ ही ओवरलोडिंग पर लगाम लगाने और जनता से जुड़ी सेवाओं को चाक चौबंद करने के लिए काम करेगा। परिवहन विभाग के अफसरों की टैक्स वसूली में मदद करना भी इस दस्ते के कार्य में शामिल होगा। मंगलवार को राज्य मंत्रिमंडल ने बिहार चलंत दस्ता सिपाही संवर्ग (भर्ती एवं सेवा शर्त) नियमावली 2019 को मंजूरी दे दी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में कुल 12 प्रस्ताव मंजूर किए गए।
सड़कों पर गाडिय़ों की संख्या बेतहाशा बढ़ रही है। लाइसेंस बनाने और नवीकरण कराने के लिए प्रति दिन हजारों की संख्या में आवेदन आ रहे हैं। परमिट नवीकरण के लिए लोगों को महीनों चक्कर लगाना पड़ता है। इसी तरह ओवर लोडिंग के मामले भी लगातार बढ़ते जा रहे हैं। वर्तमान में चलंत सिपाही दस्ता में सिपाहियों की संख्या बेहद कम है। सिपाही के 35 पद स्वीकृत हैं जिनमें से 31 पद रिक्त हैं। मंत्रिमंडल द्वारा नई नियमावली के स्वीकृत होने से तीन हजार सिपाहियों के नए पद सृजित किए जा सकेंगे।
कैबिनेट के प्रधान सचिव ने बताया कि परिवहन विभाग की चलंत सिपाही भर्ती नियमावली को मंजूरी दी गई है। भर्ती के बाद 38 जिला कार्यालय और छह चेक पोस्ट पर सुचारू तरीके से कार्य होंगे।
सीएनजी स्‍टेशन की स्‍थापना को जमीन का प्रस्‍ताव मंजूर
प्रधान सचिव ने बताया कि मंत्रिमंडल ने गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया के प्रस्ताव के बाद राज्य पथ परिवहन निगम की फुलवारी शरीफ केंद्रीय कर्मशाला में सीएनजी स्टेशन की स्थापना के लिए गेल को डेढ़ एकड़ जमीन देने संबंधी प्रस्ताव को मंजूरी दी है। गेल को यह जमीन 46.49 करोड़ रुपये की लागत पर दी गई है।
गुरू गोविंद सिंह प्रकाश पर्व टेंट सिटी के लिए 8.1 करोड़ स्‍वीकृत
मंत्रिमंडल ने एक अन्य फैसले में गुरू गोविंद सिंह जी 352 वें प्रकाश पर्व के आयोजन के लिए टेंट सिटी निर्माण के लिए 8.1 करोड़ तथा जिस जमीन पर टेंट सिटी बनाई गई है, उन जमीन के मालिकों की फसल क्षतिपूर्ति भुगतान के लिए रुपये भी स्वीकृत कर दिए हैं।

Online Saptari Registration
Online Saptari Registration

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Under News Detail – 750 X *