Breaking News

दूसरे दिन का खेल खत्म 5 विकेट गंवाकर बैकफुट पर श्रीलंका, भारत 446 रन आगे

दूसरे दिन का खेल खत्म 5 विकेट गंवाकर बैकफुट पर श्रीलंका, भारत 446 रन आगे
Business With Technology Pvt. Ltd.
भारतीय टीम के पहली पारी में 600 रन पर ऑलआउट करने के बाद बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की शुरुआत बेहद खराब रही।  समाचार लिखे जाने तक श्रीलंका ने 34 ओवर में 5 विकेट खोकर 147 रन बना लिए हैं। उपुल थरंगा 64 रन बनाकर रन आउट हो गए। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए आए निरोशन डिकवेला ज्यादा देकर तक मैथ्यूज का साथ नहीं दे सके। अश्विन की एक अंदर आती गेंद पर वह शॉट पिच पर खड़े अभिनव मुकुंद को कैच दे बैठे। खबर लिखे जाने तक एंजेलो मैथ्यूज 53* और दिलरुवान 1* रन बनाकर क्रीज पर जमे हुए हैं। भारतीय गेंदबाजों ने अच्छी शुरुआत की। शमी ने 2 और यादव और अश्विन ने 1-1 श्रीलंकाई खिलाड़ी को अपना शिकार बनाया। श्रीलंका अभी भी भारत के स्कोर से 452 रन पीछे है।
भारत के तेज गेंदबाज उमेश यादव ने दिमुथ करुनारात्ने (2) को LBW आउट करके मेजबान टीम को पहला झटका दिया। इसके बाद उपुल थरंगा और गुनाथिलाका (16) ने दूसरे विकेट के लिए 61 रन की साझेदारी की। विराट ने तभी शमी को गेंदबाजी थमाई और तेज गेंदबाज ने अपने कप्तान को विकेट का तोहफा दिया। उन्होंने एक ही ओवर में पहले गुनाथिलाका और फिर कुसल मेंडिस को स्लिप में कैच आउट कराया। दोनों के कैच शिखर धवन ने लपके।

श्रीलंका के खिलाफ पहले टेस्ट के दूसरे दिन लंच के बाद भारतीय टीम की पहली पारी 133.1 ओवर में 600 रन पर ऑलआउट हुई। भारतीय टीम ने पहली पारी में गॉल स्टेडियम में बनाए सर्वाधिक रनों का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। इससे पहले 2010 में वेस्टइंडीज ने गॉल में श्रीलंका के खिलाफ अपनी पारी 9 विकेट पर 580 रन बनाकर घोषित की थी, जो रिकॉर्ड था।

हार्दिक पांड्या आउट होने वाले आखिरी बल्लेबाज रहे, जिन्होंने अपने टेस्ट करियर का डेब्यू अर्धशतक जमाया। पांड्या ने 49 गेंदों में 5 चौको और तीन छक्कों की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने हेराथ द्वारा किए पारी के 133वें ओवर की पहली गेंद पर लांग ऑफ की दिशा में शॉट खेलकर एक रन लिया और अपनी फिफ्टी पूरी की। हार्दिक पांड्या आठवें क्रम पर बल्लेबाजी करने आने के बाद फिफ्टी जमाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले डी शोधन, डी फाडकर और सी गोपीनाथ ऐसा कर चुके हैं। हार्दिक ने एक पारी में तीन छक्के लगाए। वो डेब्यू पारी में दो से अधिक छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने।

टीम इंडिया ने गॉल स्टेडियम पर दूसरे दिन अपनी पारी 399/3 से आगे बढ़ाई। मगर उसकी शुरुआत अच्छी नहीं रही। चेतेश्वर पुजारा (153) और रहाणे (57) ने स्कोर को जल्द ही 400 पार लगाया, लेकिन फिर प्रदीप ने पुजारा को विकेटकीपर डिकवेला के हाथों की शोभा बनाया। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने 265 गेंदों में 13 चौको की मदद से 153 रन बनाए।

Online Saptari Registration
Online Saptari Registration

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Under News Detail – 750 X *